मोटा होने की दवा | Mota hone ki Dawa – 100% working

दोस्तों Crazy Hindi में आपका स्वागत स्वागत है आज इस पोस्ट में है हम आपको बताने जा रहे हैं कि मोटा होने की दवा – Mota hone ki Dawa, मोटा होने का पाउडर, मोटा होने के लिए इंग्लिश दवा के बारेमे। क्या आप भी दुबलेपन से परेशान है?, और वजन बढ़ाना चाहते हैं? तो आप सही जगह पर आए हैं।

यह बात आप जानते होंगे की कई लोग मोटापे (motape) के शिकार हो रहे है और वह अपना वजन कम करने में लगे रहते है। वही दूसरी तरफ आज बहुत सारे लोग ऐसे भी है जो कम वजन या दुबलेपन से परेशान है जिस कारण वे वजन बढ़ाने में लगे रहते है।

आज के भाग दौड़ के समय में सभी व्यक्तियों को शरीर से तंदुरुस्त रहना बहुत ही जरूरी है। लेकिन आधुनिक जीवन में काम ज्यादा होने के कारण सभी व्यक्ति अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने में सफल नहीं रहते हैं। और कई तरह की बीमारी भी हो सकती है।

मोटा होने की दवा – Mota hone ki Dawa क्यों जरूरी है?

मोटा होने के लिए कई लोग घरेलू तरीके आजमाते है जैसे कि योगा, एक्सरसाइज और । लेकिन कई लोगों को फिर भी इन से कुछ फायदा नहीं मिल पाता है और वह वजन बढ़ाने में नाकामयाब रहते हैं ऐसे में सभी को एक विचार आता है कि क्या कोई मोटा होने की दवा (mota hone ki dawa) नहीं है कि जिसे खाकर में अपना वजन बढ़ा सकु?

तो मैं आप सबको दो कि जी हां मार्केट में अब वजन बढ़ाने के लिए बहुत सारे प्रोडक्ट मिल रहे हैं, लेकिन आप किसी भी मोटा होने (वजन बढ़ाने) की दवा पर आँख बन्ध कर के भरोसा नहीं कर सकते हैं।

कम वजन का क्या मलतब है?

आपने कई ऐसे लड़के लड़कियों को देखा होगा कि जो अपने युवावस्था में शारीरिक रूप से इतने कमजोर होते हुए कि जिन्हें देखकर लगता है कि इन्हें खाने को कुछ नहीं मिलता होगा। मोटे लोगों की तरह के लिए अभी बीमारियों की संभावना ज्यादा रहती है।

आयुर्वेद में ऐसे व्यक्ति को कम वजन या दुबला कहा जाता है इस व्यक्ति के शरीर की नसें दिखाई देती है और सिर्फ हड्डियां होती है उस व्यक्ति को काम करते वक्त जल्दी से थकान लग जाती है। लेकिन दुबलापन कोई बीमारी नहीं होती है, वह व्यक्ति के भोजन, आहार-समय और लापरवाही की वजह से होता है।

दुबलेपन के साइड-इफ़ेक्ट

  1. दुबलेपन कारण के कारण हमेशा तनाव रहता है, और व्यक्ति लोगों के बीच जाने से कतराता है।
  2. कम वजन के कारण मन में हीन-भावना आती है जो व्यक्तिगत विकास के लिए नुकसानदायक है।
  3. एक शोध के अनुसार दुबलेपन के कारण व्यक्ति की आयु भी कम हो जाती है।
  4. कम वजन व्यक्ति में निराशाजनक सोच(negative thinking) विकसित कर देता है और उसका आत्मविश्वास भी बहुत कम हो जाता है।
  5. कम वजन के कारण शरीर में रोगों की संभावना बहुत बढ़ जाती है।
  6. दुबलेपन के कारण आपकी पर्सनालिटी ठीक से डिवेलप नहीं होती है और आपका आत्मविश्वास कम हो जाता है।

दोस्तों, मैं आपको पहले ही बता दूं कि यह पोस्ट कुछ लंबी होने वाली है तो आप इसे अपने बुकमार्क या फेवरेट लिस्ट में ऐड कर सकते हैं या फिर गूगल पर crazyhindi.com सर्च टाइप करके मोटा होने की दवा(mota hone ki dawa) यह पोस्ट को फिर से पढ़ सकते हैं।

कैसे जाने आप कम वजन के शिकार है और आपको मोटा होने की दवा की जरूर है?

आपका वजन सही है या नहीं आप दुबले हैं या फिर सामान्य है या मापने के लिए आप बॉडी मास इंडेक्स नम्बर का प्रयोग कर सकते है।

अगर इस पद्धति के अनुसार आपका बॉडी मास इंडेक्स नंबर 18.5 से कम है तो फिर जानले की आपको वजन बढ़ाने या फिर मोटा होने की दवा(mota hone ki dawa) की बहुत जरूरत है। अगर यह अंक 18.5 से 25 के बीच में है तो आपका वजन सामान्य है। यानी कि आपको जरूरत नहीं है।

जैसे कि आपने ऊपर पढा कि दुबलेपन के बहुत ही ज्यादा खराब असर होती है। अगर आप वजन बढ़ाने के घरेलू तरीके ढूंढ रहे हैं तो,

यह पोस्ट जरूर पढ़ें – Vajan Kaise Badhaye? | सबसे आसान तरीके

पहले यह तरीके जरूर आजमाए फिर उनसे बात न बने तो ही मोटा होने की दवा(mota hone ki dawa), वजन बढ़ाने की इंग्लिश दवा या मोटा होने का पाउडर ले।

मोटा होने की इंग्लिश दवा (mota hone ki dawa)

मोटा होने की दवा, केप्सूल

वजन बढ़ाने या की या फिर मोटा होने के लिए आप खाने के अलावा कुछ ऐसी दवा का सेवन भी कर सकते हैं जो आपके वजन बढ़ाने में मदद कर सकती है। लेकिन यह दवाई आपके शरीर के लिए नुकसानदायक भी हो सकती है। इसलिए इन दवाइयों का उपयोग करते पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

सिप्रोहेप्टाडिन (Cyproheptadine)

यह है ‘एंटीहिस्टामाइन‘ प्रकार की मोटा होने की दवा(mota hone ki dawa) है जिसका काम शरीर में मौजूद प्राकृतिक हिस्टामाइन को कम करना और आपकी भूख की उत्तेजना को बढ़ाना है।

भुख बढ़ने की वजह से आपका खोराक बढ़ जाता है। और ज्यादा खाने की वजह से आप ज्यादा कैलरी पाना शुरू कर देते हैं। इससे आपका वजन प्राकृतिक तरीके से बढ़ता है। इस दवा का आप दिन भर में चार बार 2 से 8 मिलीग्राम तक सेवन कर सकते हैं।

ओगजनड्रोलोन (Oxandrolone)

एक ‘अनाबॉलिक स्टेरॉयड‘ प्रकार की मोटा होने की दवा(mota hone ki dawa) है। जो मांसपेशियों को बढ़ाने के लिए जानी जाती है यह दवा छोटे बच्चे के लिए मना की गई है। इसलिए बच्चे इसका सेवन ना करें।

उज्जैन ढोलन का मुख्य उपयोग वजन बढ़ाने के लिए सहायक चिकित्सा या हड्डी दर्द या अन्य स्थितियों के उपचार के लिए किया जाता है। इस दवा का आप दिन भर में चार बार 5 से 10 मिलीग्राम तक सेवन कर सकते हैं।

ऑक्सीमेथिलोन (Oxymetholone)

ऑक्सीमेथेलॉन को एक बहुत ही प्रभावशाली मोटा होने की दवा(mota hone ki dawa) मानी जाती है सामान्य तौर पर खून की कमी, अधिग्रहित प्रतिरक्षीत आभाव सिंड्रोम या फिर अन्य स्थितियों के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है।

इस दवाई को लोग काफी मात्रा में इस्तेमाल करते हैं। आप दिन भर में 25 से 50 मिलीग्राम तक एक बार सेवन कर सकते हैं।

ड्रोनाबिनोल (Dronabinol)

ड्रोनाबिनोल भूख और खोराक को तेजी से बढाता है। जिससे आप ज्यादा खाना खाने लगते हो और आपका शरीर बढ़ने लगता है। मोटा होने की यह एक प्रभावशाली दवा है। इस दवाई का आप दिन भर में 2.5 मिलीग्राम दो बार तक इस्तेमाल सकते हैं।

इस दवा का मुख्य उपयोग कैंसर रसायन चिकित्सा के साथ जुडी मतली और उल्टी, एड्स के रोगियों में अरुचि की वजह से वजन घटना और अन्य स्थितियों के उपचार के लिए किया जाता है।

यह चारों दवाये वजन बढ़ाने या फिर मोटा होने(mota hone ki dawa) के लिए व्यापक तौर पर इस्तेमाल की जानेवाली दवा है। परंतु इनके कई साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। इसलिए इनको बहुत ज्यादा इस्तेमाल मत करें।

Also Read This: Among US Game Kaise Khele | क्या है Among US? | जाने हिंदी मे

मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक दवाएं।

पतंजलि च्यवनप्राश (Patanjali Chyawanprash)

पतंजलि च्यवनप्राश का उपयोग आप मोटे होने के लिए कर सकते हो। यह एक बहुत पॉपुलर औषध है। इसका उपयोग करने के लिए कोई वय मर्यादा नहीं है। इसका सेवन बच्चो से लेकर बड़े बुजुर्ग तक कोई भी कर सकता है।

इसमें कई सारी नेचरल जड़ी बूटी सामिल है को आपके पाचन को बढ़ाने में मदद करती है।

वसंत कुसुमाकर रस

यह एक बढ़िया और पॉपुलर औषध है जो पाउडर और टैबलेट के रूप में आती है।

यह नर्वस सिस्टम में असर करता है और यह समरण शक्ति को बढ़ाता है। और याद शक्ति बढ़ाता है, पाचन शक्ति को बढ़ाता है और मोटे होने के लिए भी मदद करता है।

अश्वगंधा चूर्ण

अश्वगंधा चूर्ण एक ओर मोटे होने के लिए औषधि है।

वैसे भी अश्वगंधा वजन बढ़ाने के लिए बहुत उपयोग में आता है और ये भी उसका चूर्ण बनाके दिया जाता है। हाई क्लोरीन खाना खाने के बाद इस चूर्ण खाने से मोटे होने में मदद मिलती है।

मार्केट में कई प्रकार के औषध मिलाते है परन्तु हमने यह पे आपको 3 सबसे अच्छे आयुर्वेद बताए है। आप कोई और इस्तमाल करना चाहे तो कर सकते है।

मोटा होने के लिए पाउडर (मास गेनर)

मोटा होने की दवा - mota hone ki dawa

मास गेनर को वेट गेनर के नाम से भी जाना जाता है यह वजन बढ़ाने और मसल्स मास इंप्रूव करते हैं। अगर आप सिर्फ बॉडी बनाना चाहते है तो सर्फ यह पाउडर खाये और अगर आप इसके साथ बॉडी भी बनाना चाहते है तो थोड़ा GYM भी करे। अगर GYM नही जा सकते हे तो फिर कसरत भी कर सकते है।

मोटा होने के लिए पावडर क्यु जरूरी है?

आप को भी यह विचार आया होगा कि एक पाउडर मोटा होने या बॉडी बनाने में कैसे मदद कर सकता है। लेकिन यह सच है कि ये बॉडी को इंप्रूव करने में बहुत मदद करते हैं क्योंकि इन में भरपूर मात्रा में विटामिन, न्यूट्रिएंट्स, और प्रोटीन्स होते हैं।

वजन बढ़ाने के लिए आप जो भी Diet लेते हैं, उसको आपका पाचन तंत्र ठीक से Digest नहीं कर पाता है। यह डायट को जल्दी से पचाने के लिए पाउडर हेल्प करते हैं। इनसे इम्यून सिस्टम को पावर मिलती है और सब बॉडी पार्ट्स में ठीक से प्रोटीन पहुंच पाता है।

ज्यादा जानकारी के लिये यह भी पढ़े: Vajan Badhane Ke Tarike – Weight Gain Tips in Hindi

अगर आप मोटा होने के लिए पाउडर लेना चाहते हैं। तो यहां पर हम आपको कुछ सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाले पाउडर के नाम और उसके फायदे बता रहा है।

1. Optimum Nutrition Mass Gainer (3 Kg)

  • 1250 कैलोरीज पर सर्विंग (प्रति दो चम्मच)
  • 58 ग्राम प्रोटीन और 250 ग्राम कार्बोहाइड्रेट्स पर सर्विंग
  • 33 विटामिन और दूसरे मिनरल्स
  • Creatine & Glutamine, Glutamic Acid
  • इस्तेमाल : ट्रेनिंग के बाद, सोने से पहले और Between meals

2. Advance Musclemass High Protein Weight Gainer (3 Kg)

  • 1450 कैलोरी प्रति 6 सर्विंग
  • 30.6 gm High Quality प्रोटीन & 151.8 gm कार्बोहैड्रेट्स प्रति 6 सर्विंग
  • 21 विटामिन & मिनरल्स पुरुष और स्त्री दोनों के लिए
  • इस्तेमाल : 1-2 शेक्स प्रतिदिन

3. MuscleBlaze Mass Gainer (1 Kg)

  • 1383gm कैलोरीज़ प्रति 3 सर्विंग
  • 82.5 gm प्रोटीन और मिनरल्स प्रति 3 सर्विंग
  • 27 जरूरी विटामिन और मिनरल्स
  • चॉकलेट, वेनिला, कुकी एंड क्रीम.. जैसे फ्लेवर उपलब्ध

मोटा होने के लिए प्रोटीन पाउडर

मोटा होने का पाउडर

आज के इस प्रतिस्पर्धा के दौर में कई तरह के वजन बढ़ाने के लिए बेस्ट प्रोटीन पाउडर बाजार में उपलब्ध है और उन सब में से में आपको यहां पर कुछ पाउडर के बारे में बताऊंगा कि जो सबसे ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाले है।

मास गेनर वह लोग लेते हैं जिनका वजन बहुत ही कम है लेकिन अगर आप पेट को बढ़ाने की बजाय सिर्फ असली मसल्स को ही बढ़ना चाहते हैं, तो आप मोटा होने के लिए प्रोटीन पाउडर इस्तेस्माल कर सकते हैं। प्रोटीन पाउडर मास गेनर की तुलना में बहुत ही अच्छा होता है लेकिन महंगा भी होता है।

प्रोटीन पाउडर मांसपेशियों के निर्माण और ताकत को बढ़ाने के में सहायता देता है, और इसके अलावा प्रोटीन पाउडर में एंटीबायोटिक, एंटीवायरल, एंटीऑक्सीडेंट जैसे गुण होते हैं। लेकिन यह भी याद रखें बहुत अधिक प्रोटीन पाउडर के सेवन से आपको कई कर समस्या हो सकती है। इसलिए इनका निर्धारित मात्रा में ही सेवन करें और सेवन के लिए बताए गए निर्देशों का ठीक से पालन करें।

कुछ ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाले प्रोटीन पाउडर :-

  1. Optimum Nutrition Gold Standard Whey Protein: Buy from here
  2. MuscleBlaze Whey Gold Protein: Buy from here
  3. HealthKart My First Protein, Beginners Protein: Buy from here

मोटा होने की आयुर्वेदिक दवा (Mota hone ki Ayurvedic dawa)

पिछले कई सालों में आयुर्वेद में कई मुकाम हासिल की है और लोगों का विश्वास जीता है। ज्यादातर आयुर्वेदिक उपचार खानपान और परहेज के ऊपर होते हैं। जो कि बिल्कुल साधारण और काम खर्चीले होते है। और इनको आप आसानी से फॉलो कर सकते हैं।

आयुर्वेदिक दवा के अनेक लाभ होते हैं और यह दवा बीमारियों से भी लड़ पाती है। आयुर्वेदिक दवा लेने से साइड इफेक्ट्स की संभावना बहुत ही कम हो जाती है।

यहां पर हम आपको कुछ एसी आयुर्वेदिक दवा के नाम बता रहा है जिनके सेवन से आपको वजन बढ़ाने में बहुत ही मदद मिल सकती हैं।

  1. Ayurvedic Capsules for Muscle Gain : यहा से खरीदे
  2. Accumass Weight Gain Capsules : यहा से खरीदे
  3. Oziva Protein And Herbs : यहा से खरीदे

यह सब ऑनलाइन मिलने वाली दवाई की जानकारी है। इसके अलावा आप किसी नजदीक के आयुर्वेदिक सेंटर में जाते हैं तो वहां पर इस तरह की कई और दवाइयां भी मिल जाएगी। अगर आप चाहे तो आप यह सब इस्तेमाल करके भी दे सकते हैं जो आपको मदद दे सकती है।

अन्य आयुर्वेदिक इलाज

  1. च्यवनप्राश (Chyawanprash) : यहा से खरीदे
  2. वसंत कुसुमाकर रस (Vasant Kusumakar ras) : यहा से खरीदे
  3. अश्वगंधा चूर्ण (Ashwagandha Churna) : यहा से खरीदे
  4. Himalaya Shatavari : यहा से खरीदे
  5. Himalaya Yashtimadhu (यष्टिमधु) : यहा से खरीदे

दोस्तों को वजन बढ़ाना कोई बड़ी बात नहीं है। जैसे कि इस आर्टिकल में आपने देखा की मोटा होने के लिए आप दवा, पाउडर या फिर आयुर्वेदिक दवा का इस्तेमाल कर भी कर सकते हैं और घरेलू उपाय दोनो से यह बुंकिन है।

उम्मीद करता हु की हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी हॉगी। अगर आपके पास मोटा होने की दवा(mota hone mota hone ki dawa) या सजेशन है तो नीचे कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं ।

इस पोस्ट की जानकारी आप अपने दोस्तों को भी दे तथा सोशल मीडिया पर भी यह पोस्ट मोटा होने की दवा(mota hone mota hone ki dawa)  ज़रुर शेयर करे। जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों के पास यह जानकारी पहुँच सके।

इसे भी पढ़िए :

Share via
Copy link
Powered by Social Snap