Cricket Pitch Ki Lambai Kitni Hoti Hai { सारी जानकारी } 2022

Rate this post

नमस्कार दोस्तों ,तो कैसे हैं आप लोग,आशा करते है कि आप सब कुशल मंगल अपने परिवार के साथ अच्छा समय व्यतीत कर रहे होंगे। दोस्तो आज के समय मे क्रिकेट की प्रशिद्धि बढ़ती जा रही है,हम सभी को क्रिकेट बहुत पसंद होता है। विराट कोहली के चौके,धोनी के छक्कों को हम सभी इनको बड़ा पसंद करते हैं, हमे यह तो पता होता है कि क्रिकेट में 11 खिलाड़ी होते हैं और इसमे 2 टीम खेलती हैं जिसमे से सबसे ज्यादा रन बनाने वाली टीम वीजयी होती है। लेकिन हमें यह नही पता होता कि क्रिकेट गेम में Cricket Pitch Ki Lambai Kitni Hoti Hai और पिच कितने प्रकार की होती। 

अगर आपको यह सब जानकारी नही है तो घबराईये नही, आज हम आपके लिए ऐसी ही रोचक ब्लॉग लेकर आये है ,जिससे आपके ज्ञान का भंडार बढ़ जाएगा। दोस्तों आज के अपने इस ब्लॉग में हम बात करने वाले हैं  कि क्रिकेट पिच की लंबाई  क्या होती है। तो चलिये शुरू करते हैं दोस्तों इससे पहले की हम आपको बताते हैं  कि क्रिकेट की पिच कितनी लंबी होती है ,हम आपको यह बताना चाहते है कि पिच होती क्या है।

पिच क्या है:- PITCH KYA HAI:-

क्रिकेट के खेल में क्रिकेट मैदान के बीचों बीच दोनो विकेट के बीच मे केंद्रीय पट्टी होती है जिसे पिच कहा जाता है। पिच की सतह समतल होती है और कभी-कभी बहुत महिम घास से ढकी हुई होती है, लेकिन यह एक दम सूखी और धूल भरी मिट्टी से भी बनी हुई हो सकती है,आम तौर पर किसी मैच के दौरान बिना किसी बड़ी वजह के क्रिकेट की पिच को नही छेड़ा जाता । पिच के प्रत्येक छोर पर विकेट लगी हुई होती है जिसके एक छोर पर बल्लेबाज बल्लेबाजी करता है और अन्य छोर पर गेंदबाज द्वारा बोलिंग की जाती है। पिच, क्रिकेट के मैदान को दो हिस्सो में विभाजित करती है और बीच के क्षेत्र गेंद फेंकी जाती है और बल्लेबाजी की जाती है ।

क्रिकेट पिच से संबंधित जानकारी ( Cricket Pitch Se Sambandhit Jankari ):-

क्रिकेट के खेल में हमें भिन्न-भिन्न प्रकार की पिच देखने को मिलती हैं,जहाँ गेंदबाजी,बल्लेबाजी और वीकेटकीपरिंग एक साथ होती हैं और यहीं वह जगह होती है जहाँ से मैच के ओवर पुरे होते हैं, बल्लेबाजी होती हैं, गेंदबाज विकेट छटकाते हैं और रन बनते हैं और मैच आगे बढ़ता रहता है। हर मैच की रणनीति पिच के हिसाब से ही तय होती है और कप्तान मैच को जीतने की प्लानिंग भी पिच को ध्यान में रखकर ही करते है ,पिच के हिसाब से ही गेंदबाज गेंद को फेकता है और बल्लेबाज पिच के हिसाब से ही अपने बल्ले का रुख करता है,गेंदबाज हो या बल्लेबाज सभी हमेशा यही चाहते हैं कि जैसा वह चाहते है पिच वैसी ही हो,मतलब उनकी पसंद की हो,ताकि उनको खेलने में आसानी हो और रन अच्छे बन सके। अब बात करते हैं कि क्रिकेट पिच की लंबाई और चौड़ाई कितनी होती है।

क्रिकेट पिच की लंबाई व चौड़ाई कितनी होती हैं ( Cricket Pitch Ki Lambai Kitni Hoti Hai )

Cricket Pitch Ki Lambai Kitni Hoti Hai

दोस्तों अगर बचपन मे आपने क्रिकेट खेला हो तो आपको याद होगा कि कैसे हम क्रिकेट की पिच को कदमो से नापते थे ,वह तो बचपन मे की जाने वाली प्यारी सी घटना है लेकिन असल मे आगर क्रिकेट पिच को नापना हो तो उसे फ़ीट,गज या फिर मीटर में नाप सकते है। आधिकारिक स्तर पर देखे तो क्रिकेट पिच की लम्बाई 22 गज की होती हैं, जिसे अगर फ़ीट में नापे तो इसकी लंबाई 66 फीट की होती है और अगर मीटर में देखे तो 20.12 मीटर होती हैं।

लंबाई (फ़ीट में)
Length in feet
66 फ़ीट
66 feet
लंबाई(मीटर में)
Length in Meter
20.12मीटर
20.12 meter
लंबाई (गज में)
Length in Yard
22 गज
22 yard

इसी के साथ अगर क्रिकेट पिच की चौड़ाई की बात करे तो इसकी चौड़ाई 10 फीट होती है ,जिसको अगर मीटर में नापे तो 3.04 मीटर और गज में नापे तो 3.33 गज होती है। पिच की लम्बाई एक स्टम्प से दुसरे स्टम्प की दुरी होती हैं, इस लंबाई में बोलिंग क्रीज वाली लंबाई और विकेटकीपर के खड़े होने की जगह को शामिल नहीं किया जाता।

क्रिकेट पिच में बालिंग क्रीज की लंबाई ( Cricket Pitch Me Bowling Krij Ki Lambai ):-

सबसे पहले तो यह जानना जरूरी है कि बोलिंग पिच क्या होती है? दोस्तो बोलिंग पिच क्रिकेट के मैदान की वह जगह होती है जहाँ से गेंदबाज, गेंद को बल्लेबाज की ओर फेंकता है। क्रिकेट पिच में दोनो स्टम्प के खत्म होने के बाद बालिंग क्रीज की शुरुआत होती है जिसकी लम्बाई 4 फीट होती हैं, जो मीटर में 1.22 मीटर और 1.3 गज होती है, दोनो तरफ के स्टम्प के आगे और पीछे दोनों तरफ 4 – 4 फीट की लाइन बनाई जाती है,उसे ही बोलिंग पिच कहते हैं। जैसा कि हमने आपको बताया कि स्टम्प से बालिंग क्रीज की लम्बाई 4 फीट होती हैं ,जब बल्लेबाज सिंगल या डबल रन लेते है तो रन दौड़ने के दौरान बल्लेबाजों को इसी क्रीज को छुना होता है जिसके बाद ही उनका रन पूरा होता है और अगर गेंदबाजी के दौरान गेंदबाज का पैर इस क्रीज के बाहर निकल जाता है तो उस गेंद को ‘नों बॉल’ कहते है ।

क्रिकेट पिच की लंबाई कितने कदम होती हैं  ( Cricket Pitch Ki Lambai Kitne Kadam Hoti Hai ) :-

दोस्तों जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि कैसे  हम बचपन मे क्रिकेट पिच को कदमो से नापते थे ,ऐसे ही अगर हम क्रिकेट पिच को कदमो से नापना चाहते है तो क्रिकेट पिच की कुल लंबाई 26 कदम होती हैं,वहीँ अगर एक क्रीज से दुसरे क्रीज के बीच की दुरी को मापे तो वह 23 कदम होती हैं।

क्रिकेट पिच के सेंटर से बाउंड्री लाइन की दूरी 

दोस्तों क्रिकेट के सभी निर्णय भारतीय क्रिकेट कॉउन्सिल (बी०सी०सी०आई०) द्वारा लिए जाते है और यही संस्था क्रिकेट के मैच में बाउंड्री के निर्णय भी लेती है ,पुरुष क्रिकेट टीम के लिए ( बी०सी०सी०आई ) द्वारा पिच से बॉउंड्री लाइन की अलग-अलग दुरी तय की गई हैं। अगर सीधी बॉउंड्री या गोल आकार की बाउंड्री हो तो, कम से कम  64 मीटर (210 फीट) और अधिकतम 270 फीट मीटर में 82.29 मीटर तय की जाती है।

दोस्तो अब बात करते हैं क्रिकेट पिच के प्रकार

क्रिकेट पिच के प्रकार ( Cricket Pitch Ke Prakar ) :-

आम तौर पर क्रिकेट पिच 3 प्रकार की होते हैं – 

  1. डेड पिच (Dead Pitch)
  2. ग्रीन पिच (हरि-भरी पिच) (Green Pitch)
  3. डस्टी पिच (Dusty Pitch)

1.Dead Pitch (डेड पिच):-

आपने देखा होगा जिस मिट्टी को बहुत दिनों तक पानी नही मिलता वह बहुत रूखी हो जाती है ,ऐसी ही क्रिकेट की डेड पिच होती है,जैसा कि नाम से ही जाहिर हैं, डेड पिच पूरी तरह से सपाट होती हैं और उस पर पानी की कमी से यह पिच पूरी तरह से सुखी होती हैं, इस प्रकार की पिच में अक्सर दरारें देखने को मिलती हैं और इस पिच पर घास और नमी बिल्कुल भी नही होती। डेड पिच अक्सर देखने में काले रंग की दिखती हैं, इस तरह की पिच को टी 20 और वनडे मैचों के लिए चुना जाता है। इस तरह की पिच बल्लेबाजों के लिए बहुत ही लाभदायक होती है और वहीँ गेंदबाजों के लिए यह पिच बहुत ही बुरी साबित होती है क्योंकि गेंद सुखी मिट्टी पर तेज गति से नही डाली जा सकती। इस तरह की डेड पिच भारत, बांग्लादेश,पाकिस्तान, श्रीलंका और UAE में पाई जाती है इस तरह की पिच में ज्यादातर टी-20 और वनडे मैच खेले जाते है।

2.ग्रीन पिच (Green Pitch):-

दोस्तो अगर आप कभी किसी स्टेडियम में गए होंगे और वहां की पिच पर थोड़ा गोर किया होगा तो आपने देखा होगा कि उस पिच पर छोटी-छोटी घास उगी होती है जो देखने में बहुत अच्छी दिखती है ,उसी पिच को ग्रीन पिच कहा जाता है ,ग्रीन पिच को हिंदी में हरी पिच कहा जाता है जो उस छोटी-छोटी घास के उगने से कहलाई जाती है। ग्रीन पिच या हरी पिच में हमें घास देखने को मिलती हैं, इस पिच में प्राकृतिक रूप से घास होती है और कभी-कभी मनुष्य द्वारा भी यह घास लगाई जाती हैं, इस पिच में पूरी साल नमी होती है, 

जिसकी वजह से ग्रीन पिच तेज गेंदबाजों के लिए बहुत ज्यादा लाभकारी साबित होती है। पिच पर नमी होने के कारण गेंद को गति मिलती है और गेंदबाज पूरी गति के साथ गेंदबाजी कर पाता है। इस पिच में हमें गेंद में कम घर्षण होता है जिसकी वजह से गेंद की स्पीड बरकरार रहती हैं और तेज गेंदबाज जब गेंदबाजी करते हैं तो उन्हें गेंद में गति मिलती हैं, जो तेज गेंदबाजी के लिए बहुत जरुरी है । इस तरह के पिच ज्यादातर ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में होती है और इस तरह की पिच का इस्तेमाल टी20 आदि मैच के लिए किया जाता है।

3.  Dusty Pitch ( डस्टी पिच ) :-

इस पिच की मिट्टी बहुत मुलायम होती है ,जिस पर बहुत सारी धूल देखने को मिलती है,अक्सर गेंदबाजी करते वक्त यह धूल उड़ती है । डस्टी पिच का मतलब धूलभरी पिच हैं, इस पिच में गेंद का उछाल बहुत कम हो जाता है और गेंद के उछलने पर धुल उड़ती है। इस तरह की पिच में तेज गेंदबाजों को बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ता है क्योकि इस पिच में गेंद को गति नही मिल पाती और बल्लेबाज को गेंद को हिट करने में बहुत आसानी होती है,

जिससे जाहिर है कि बल्लेबाज के लिए यह पिच बहुत लाभदायक है,लेकिन वहीँ स्पिन गेंदबाजों को इस पिच में स्पिन करने में बहुत ज्यादा अनुकूल साबित होती है , क्योंकि गेंद जमीन को छूते ही तेजी से घूम जाती है जिससे स्पिन गेंदबाजों को गेंद टर्न करने में आसानी हो जाती है। इस तरह की पिच का प्रयोग टेस्ट मैच खेलने के लिए किया जाता है । इस तरह की पिच ज्यादातर एशिया में देखने को मिलती है,क्योंकि सबसे ज्यादा टेस्ट मैच एशिया में ही खेले जाते हैं और यह कि पिच भी इन मैचों के लिए अनुकूल होती है।

Doston आशा करते हैं ,हमारे द्वारा दी गयी आज की यह जानकारी आपके लिए बहुत लाभदायक साबित होगी,हमने आज आपको बताया कि पिच क्या होती है और Cricket Pitch Ki Lambai Kitni Hoti Hai,और साथ ही हमने आपको बताया कि पिच कितने प्रकार की होती है ।हमारा ब्लॉग पढ़ने के लिए धन्यवाद और ब्लॉग के लिए जुड़े रहिये हमारे साथ नमस्कार ||| 

Leave a Comment